Blogger के लिए Sitemap कैसे बनाये - Blogger ke liye Sitemap Kaise Bnaye

अपने blog के लिए Sitemap कैसे बनाये? अगर आप एक Blogger है तो आपको कुछ चीजों के बारे में जानना बोहोत ही जरूरी है, उनके बगेर आपके ब्लॉग पर Traffic आने में तथा जल्दी से Search Engine में Index होने में बोहोत ही समय लग सकता है. उन्ही में से एक चीज़ है Sitemap.

नये Bloggers इस Sitemap के बारे में बोहोत ही परेशान हो जाते और इसको काफी कठिन चीज़ समझ बैठते है. पर परशान होने जैसी कोई बात नही है, क्योंकि आज में आपको इसके बारे में इतने आसन तरीके से बताऊंगा जिसको जानने के बाद आप भो सोचेंगे की बेकार में ही चिंता कर रहे थे   

blogger ke liye sitemap kaise bnaye

तो आज हम जानेंगे की Sitemap क्या होता है, Sitemap कितने प्रकार के होते है, Sitemap क्यों बनाना चाहिए और आखिर में Sitemap कैसे बनाये 

तो चलिए बिना और समय बर्बाद करे जानते है इसके बारे में विस्तार से 

Sitemap क्या है 

Sitemap एक तरह का file होता है जिसमे आपके blog के बारे में साडी जानकारी होती है, जैसे की आपके ब्लॉग में कितने Post है, वो सरे पोस्ट कब Publish किये गये थे, वो सरे पोस्ट किस Category के अंदर आते है तथा आपके ब्लॉग के पोस्ट कब update हुए. इन चीजों के साथ साथ आपके ब्लॉग के Pages बगेरा की भी जानकारी Sitemap में होती है 

Sitemap के प्रकार 

अब चुकी हम जान चुके है की Sitemap क्या होते है, चलिए अब हम जानते है की सितेमाप कितने प्रकार के होते है.

Sitemap मुख्य रूप से दो प्रकार के होते है एक .XML Sitemap और दुसरे .Html Sitemap 

XML Sitemap 

XML Sitemap वो Sitemap होते है जिनका Extension .xml होता है और अब .xml extension क्या होता है वो अभी आपको जानने की जरूरत नही है. ये सब चीज़े जो Coding करते है उनके लिए काम की होती है. हा, तो .xml sitemap आपके ब्लॉग के Search Indexing के लिए बोहोत ही महत्वपूर्ण होती है, इसकी सहायता से गूगल के Crawlers आपके ब्लॉग को जल्दी Crawl कर के Index कर देते है 

HTML Sitemap   

Html Sitemap वो Sitemap होता है जिसका Extension .html होता है. यह आपके ब्लॉग के लिए बोहोत ही फायदेमंद होता है, इससे आपके ब्लॉग में चार चाँद लग जाते है जिससे की आपके ब्लॉग के Users को एक बोहोत ही अच्छा Experience मिलता है और वो आपके blog पर काफी ज्यादा देर तक रहते है जिससे की आपके ब्लॉग का Bounce Rate improve होता है मतलब की आपके ब्लॉग का बाउंस रेट कम होता है 

अत आपको अपने ब्लॉग में इन दोनों Sitemaps का प्रयोग करना चाहिए इससे की आपके ब्लॉग का on-page Seo भी सही होगा और off-page SEO भी 

Sitemap क्यों बनाना चाहिए 

किसी भी ब्लॉग के लिए Sitemap का होना उतना ही आवस्यक ह जितना की जीवन के लिए पानी का होना. बिना Sitemap किसी का भी ब्लॉग अधुरा है. Sitemap न होने के कारण हमे Search Engine Optimization में काफी मुस्किलो का सामना करना परता है जिससे की हमारी ब्लॉग की Ranking दिन पर दिन डाउन होते जाती है 

Sitemap यूजर के experience को भी अच बनाने के लिए जरूरी है. मान लिगिये की कोई नया Visitor आपके ब्लॉग पर आता है तो उसे अलग अलग Articles धुन्धने के लिए बार बार नेक्स्ट Page पर click करना होगा जो की काफी Time Consuming भी और साथ में ही boring भी. ऐसा होना पर बोहोत chances है की वो Visitor आपके ब्लॉग को चोर किसी और के ब्लॉग पर चला जायेगा जिससे की आपके ब्लॉग की Bounce Rate बढती ही जाएगी 

और Bounce Rate का बढना किसी भी ब्लॉग के लिए अच्छा नही होती क्युकी इससे आपके ब्लॉग की रैंकिंग ख़राब हो होती जाती है नतीजन आपके ब्लॉग के ट्रैफिक में एक भरी गिरव देखने को मिलता है.

इसलिए में आपको सलाह दूंगा की आप अपने ब्लॉग के लिए Sitemap का इस्तेमाल जरुर करे, इससे न ही सिर्फ आपके Ranking में सुधार आएगा बल्कि आपके users भी खुश होंगे. और Users के खुसी से बढ़कर किसी भी ब्लॉग ओनर के लिए और क्या होगा 

Sitemap कैसे बनाये 

अब चुकी आप जान चुके है की किसी भी Blog के लिए Sitemap का होना कितना आवस्यक है तो चलिए अब हम आपको बताते की आप भी अपने ब्लॉग में Sitemap का इस्तेमाल कैसे कर सकते है 
तो अपने ब्लॉग के लिए एक Sitemap पेज बनाने के लिए नीचे दिए हुए steps का पालन करे 
  • सबसे पहले आप जिस ब्लॉग में Sitemap Add करना चाहते है उसमे login करे 
  • उसके बाद Dashboard में Pages के option को select करे और फिर New Page के button को दबाये
  • अब इतना करने के बाद आपके सामने एक New पेज खुल जायेगा, उसमे Title में Sitemap लिखे 
  • फिर niche वाले area में html मोड को सेलेक्ट करे तथा नीचे दिए गए कोड को copy करके Paste कर दे 
  • और Comments वाले option को ऑफ कर दे तथा Publish button को दबाये
अब आपके blog में Sitemap का पेज बन गया है, Users जब चाहे उसका इस्तेमाल कर सकते है  

में आशा करता हु आज के Article को अच्छे से पढने के बाद Sitemap से जूरी साडी परेशानिया जैसे की Sitemap क्या होता है, sitemap कितने प्रकार के होते है, Sitemap क्यों इस्तेमाल करना चाहिए तथा Sitemap कैसे बनाये फर हो गयी होगी . 

अगर फिर भी आपको Sitemap से जुडी किसी तरह की परेशानी है तो बेझिझक Comment करे. हम आपकी सहायता करने हेतु हमेशा तैयार खड़े है  

अगर आपका आज का Article पसंद आया हो तो इसे अपने friends और Relatives के साथ Share करना न भूले क्युकी Knowledge बातने से बढती है और सग्रह करने पर घटती है, में मिलता हू आप सभी से अगली बार तब तक के लिए स्वस्थ रहे खुश रहे ( lol Crime patrol😄😄 )
मेरा देश! मेरा गर्व! मेरा कर्तव्य!


टिप्पणी पोस्ट करें

2 टिप्पणियां